image

CBSE कक्षा 12 और 10 के परीक्षा का भविष्य क्या होगा?

अनुमान लगाए जा रहे हैं कि CBSE को COVID-19 महामारी के कारण 2021 में कक्षा 10, कक्षा 12 की परीक्षा का शेड्यूल बदलना पड़ सकता है।

आइये और latest जानकारी के लिए यह लेख पढ़ते है। 

2021 में कक्षा 10, 12 की परीक्षा का शेड्यूल बदलने के लिए CBSE  ने सोच विचार करना शुरू कर दिया है। इसीलिए सभी छात्रों के लिए  नवीनतम अपडेट को जानना आवश्यक है।

अनुमान तो यह भी लगाए जा रहे हैं कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन यानी की Central Board of Secondary Education (CBSE) कोरोनवाइरस COVID-19 महामारी के कारण 2021 में कक्षा 10, कक्षा 12 की परीक्षा का शेड्यूल बदलन पड सकता है। इससे पहले, CBSE ने महामारी के कारण केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी Central Teacher Eligibility Test (CTET) स्थगित कर दी थी और CTET परीक्षा अब 31 जनवरी, 2021 को आयोजित की जाएगी।

सीबीएसई ने हाल ही में अंकन योजना के साथ नवीनतम सैंपल पेपर जारी किए हैं, जिससे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि बोर्ड समय पर परीक्षा आयोजित करने की योजना बना रहा है। सीबीएसई द्वारा जारी नवीनतम नमूना पत्रों में अंकन योजना शामिल है, जो दर्शाती है कि परीक्षा समय पर आयोजित की जा सकती है।

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि सीबीएसई ने कम सीबीएसई पाठ्यक्रम के अनुसार इन सैंपल पेपर  को तैयार किया है। ये सैंपल पेपर बोर्ड परीक्षाओं में उपस्थित होने वाले छात्रों को उन प्रश्नों के format को जानने में मदद करेंगे, जिन्हे सीबीएसई द्वारा follow किया जाएगा।

कई  रिपोर्टों ने दावा किया है कि सीबीएसई कुछ दिनों में कक्षा 12 दिनांक शीट 2021 या सीबीएसई टाइम टेबल 2021 जारी करने के लिए कमर कस रहा है। तिथि पत्र में 2021 की सभी महत्वपूर्ण परीक्षा तिथियां होंगी। एक बार जारी होने के बाद, छात्र cbse.nic.in पर परीक्षा तिथियों की जांच कर सकते हैं

कुछ रिपोर्टों में दावा किया गया था कि CBSE क्लास 12 प्रैक्टिकल परीक्षा COVID-19 के कारण रद्द हो सकती है। विशेष रूप से, CBSE ने पहले ही CBSE क्लास 12 प्रैक्टिकल सिलेबस 2020-21 को छोटा कर दिया है।

सूत्रों ने दावा किया कि सीबीएसई या तो पाठ्यक्रम को छोटा करने की योजना बना रहा है या 45 से 60 दिनों की परीक्षा में देरी कर रहा है क्योंकि कोरोनोवायरस के प्रकोप के कारण देश भर में सामान्य कक्षाएं 6 महीने से अधिक समय तक निलंबित  यानी suspended रहीं और बाद में लॉकडाउन ने घातक वायरस के प्रसार को रोकने की घोषणा की। ।

वैसे राष्ट्रीय राजधानी और आस-पास के इलाकों में कई स्कूल प्रिंसिपल COVID-19 महामारी के कारण स्कूलों को जारी रखने के मद्देनजर अगले साल CBSE बोर्ड परीक्षा स्थगित करने के पक्ष में नहीं हैं। यह बात वैसे एक हद तक सही भी है।  क्यूंकि  कीमत एक छात्र के लिए बहुत अधिक होती है। कठोर एहतिहात अपनाने के साथ परीक्षा पूरी की जा सकती है।

image

खैर जल्दी हो या देर से , Edvizo की सलाह माने तो अपने तैयारी पहले से ही पूरी रखें। इस महामारी के चलते अपने भविष्य को किसी भी मार से बचाने की पूरी कोशिश करें।